राजनीतिक लाभ के लिए केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग नहीं होना चाहिए, छत्तीसगढ़ में ईडी के छापे पर बोले सीएम बघेल

0
26

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को राज्य में कई स्थानों पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के छापे को लेकर केंद्र पर निशाना साधा और कहा कि राजनीतिक लाभ के लिए और राज्य सरकार को बदनाम करने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग नहीं किया जाना चाहिए। बघेल ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि केंद्रीय एजेंसी राज्य में अपनी कार्रवाई के दौरान की गई किसी भी वसूली का विवरण क्यों नहीं बताती है। सूत्रों के मुताबिक ईडी ने छत्तीसगढ़ में सरकारी अधिकारियों और कारोबारियों से जुड़े कई स्थानों पर तलाशी के दौरान करीब चार करोड़ रुपये की नकदी और आभूषण जब्त किया है। ईडी ने मंगलवार से रायपुर, रायगढ़, महासमुंद, कोरबा समेत अन्य जिलों में छापे की कार्रवाई शुरू की है। सूत्रों ने बताया कि इस दौरान ईडी ने एक कलेक्टर समेत भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के तीन अधिकारियों, व्यवसायी सूर्यकांत तिवारी पूर्व विधायक अग्नि चंद्राकर समेत अन्य लोगों के यहां छापे की कार्रवाई की है।

जब संवाददाताओं ने केंद्रीय एजेंसी द्वारा कथित तौर पर की गई बरामदगी के संबंध में सवाल किया तब बघेल ने कहा, क्या उन्होंने (ईडी) इस बारे में कोई प्रेस विज्ञप्ति जारी की है? क्या उन्होंने इसे अधिकारियों या व्यापारियों से जब्त किया है? हर एक अधिकारी से जो कुछ भी जब्त किया गया है इसकी जानकारी देनी चाहिए। बदनाम करने की कोशिश क्यों की जा रही है। अगर उन्होंने कुछ भी बरामद किया है तो उन्हें इसे सार्वजनिक करना चाहिए। उन्होंने कहा, एजेंसियों को गलत काम से रोकने और गलत करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए बनाया गया है। यदि वह ऐसी गतिविधियों के खिलाफ कार्रवाई करते हैं तो हम स्वागत करते हैं। लेकिन राजनीतिक लाभ के लिए केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग नहीं किया जाना चाहिए और न ही राज्य सरकार तथा अधिकारियों और राजनेताओं को बदनाम करना चाहिए।

बघेल ने कहा, हमने (छत्तीसगढ़ सरकार) कोल वाशरीज़ (हाल ही में) के खिलाफ भी कार्रवाई की। क्या हमने इसका राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश की है? हम जानते हैं कि कौन किसके साथ जुड़ा हुआ है लेकिन हमने सिर्फ कार्रवाई की और दोषी पाए गए लोगों को नोटिस दिया। उनके खिलाफ नियम में जो प्रावधान है उसके तहत कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा, लेकिन आप (केंद्र सरकार) क्या कर रहे हैं? आप राजनीतिक लाभ के लिए ऐसा कर रहे हैं। मैंने कल कहा था कि भाजपा छत्तीसगढ़ में सीधे चुनाव नहीं लड़ पा रही है इसलिए वह ईडी (प्रवर्तन निदेशायल), आईटी (आय कर) और डीआरआई (राजस्व खुफिया निदेशालय) का दुरुपयोग कर रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह की सत्ताधारी कांग्रेस के प्रति झुकाव रखने वाले अधिकारियों को चेतावनी देने के बारे में पूछे जाने पर, बघेल ने कहा, वे यह अपनी खीज से कह रहे हैं। वे खुद डरे हुए हैं और इसलिए अधिकारियों को डराने की कोशिश कर रहे हैं। वे अच्छी तरह जानते हैं कि अगर वे निष्पक्ष तरीके से चुनाव लड़ते हैं तो राज्य में उनकी हालत और खराब हो जाएगी। उन्होंने कहा, पंद्रह साल तक (भाजपा शासन के दौरान) वह अधिकारी अच्छे थे, लेकिन अब जब वे सरकार में नहीं हैं तो वही (अधिकारी) खराब हो गए। अधिकारी अपना काम करते हैं, वे संविधान के प्रति जवाबदेह हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here