विपक्ष की बजाय भ्रष्टाचार के आरोपियों को डिप्टी सीएम और मंत्री बनाए जाने पर टिप्पणी करें मोदी : सीएम भूपेश

0
67

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भ्रष्टाचार पर बयान देते समय उन्हे भ्रष्टाचार के आरोपियों के लगातार भाजपा में शामिल किए जाने और उन्हे उप मुख्यमंत्री, मंत्री बनाने के साथ ही उनके खिलाफ जांच बन्द होने पर टिप्पणी करनी चाहिए। सीएम बघेल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मोदी ने कल यहां जनसभा में राज्य सरकार के साथ ही कांग्रेस पर आरोपों की छड़ी लगा दी, लेकिन ऐसा करते हुए उन्हे यह याद नही आया कि मध्यप्रदेश की जनसभा में पिछले सप्ताह एनसीपी के जिन नेताओं पर कई हजार करोड़ के घोटाले के उन्होने आरोप लगाए थे वह अब भाजपा में शामिल होकर उप मुख्यमंत्री और मंत्री बन गए है। उन्होंने कहा कि प्रफुल्ल पटेल भी अब पाक साफ हो गए है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री एवं भाजपा को तब तक विपक्ष का नेता भ्रष्टाचारी दिखता है जब तक वह भाजपा से बाहर है, भाजपा में आते ही वह गांगा जल से धुल जाता है। इससे पहले एक नाथ शिंदे और उनके साथ शिवसेना छोड़ने वाले विधायक भ्रष्टाचारी थे उनमें से कईयों के यहां छापे पड़ रहे थे लेकिन भाजपा के साथ सरकार बनते ही सबके पाप धुल गए। उन्होंने कहा कि सच तो यह हैं कि प्रधानमंत्री एक भी भ्रष्टाचारी को भाजपा के बाहर नही देखना चाहते। सीएम बघेल ने कहा कि प्रधानमंत्री को जनता को मूर्ख नही समझना चाहिए, वह सब देख रही है। महाराष्ट्र इसका ताजा उदाहरण है।

सीएम बघेल ने कहा कि भाजपा नेता छत्तीसगढ़ सहित देशभर में आकंठ भ्रष्टाचार में डूबे है, लेकिन उप मोदी कुछ नही बोलते। उन्होंने कहा कि विपक्ष को बदनाम करने चुनावी भाषण देकर चले गए, लेकिन हजारों करोड़ रूपए गरीबों का लूटने वाली चिंटफंड कम्पनियों पर कुछ नही बोले। धान घोटोले की जांच उनकी सरकार ने शुरू करवाई तो पूर्व नेता प्रति पक्ष ने इसे रोकवाने पीआईएल दाखिल कर दी। जिस शराब घोटाले की बात वह बढ़ चढ़कर बोल रहे थे उन्हे बताना चाहिए कि शराब निर्माता कम्पनियों के मालिक क्यों खुलेआम घूम रहे है।

उन्होंने कहा कि शराब की बोतलों पर होलोग्राम फैक्ट्री में लगता है, अगर कहीं गड़बड़ हुआ हैं तो फैक्ट्री मालिक इसके लिए जिम्मेदार है। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नही होना तमाम संदेह को जन्म देता है। संभव है कि उनकी सेटिंग हो गई हो। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का काम यह सुनिश्चित करना है कि उसे राजस्व का कोई नुकसान नही हो। आबकारी विभाग ने तीनों फैक्ट्री मालिकों को नोटिस जारी किया है। सीएम बघेल ने प्रधानमंत्री के विपक्ष पर उनकी कब्र खोदने जैसे बयान का जिक्र करते हुए कहा कि वह सहानुभूति हासिल करने के लिए इस तरह की बयानबाजी करते है। उन्होंने कहा कि हम प्रजातांत्रिक व्यवस्था को मानने वाले लोग है, किसी भी नेता के बारे में ऐसा सोच भी नही सकते। जो नफरती राजनीति में माहिर लोग है वहीं इस तरह की बाते करते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here