भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, घोटाला: छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार के विरुद्ध भाजपा का आरोप-पत्र जारी

0
63

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने चुनावी राज्य छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के खिलाफ 104 पन्नों का आरोप-पत्र जारी किया, जिसमें भूपेश बघेल सरकार के तहत बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद और घोटालों का आरोप लगाया गया है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने यहां पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप-पत्र जारी करते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी और उसके पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा पिछले छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों सहित विभिन्न अवसरों पर किए गए कुल 316 वादों को कांग्रेस सरकार पूरा करने में विफल रही। राज्य में कानून-व्यवस्था का मुद्दा उठाते हुए पात्रा ने आरोप लगाया कि राज्य में माफिया और अपराधियों को खुली छूट दी गई है। उन्होंने आरोप लगाया, कांग्रेस सरकार ने बलात्कार के 5,900 से अधिक मामलों को नजरअंदाज किया है। यह छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का असली चेहरा है।

भ्रष्टाचार और कांग्रेस सरकार के प्रदर्शन के मुद्दे पर, पात्रा ने दावा किया कि गांधी ने छत्तीसगढ़ में शराब की बिक्री पर 100 प्रतिशत प्रतिबंध का वादा किया था, लेकिन राज्य में बघेल सरकार के तहत 2,000 करोड़ रुपये से अधिक का शराब घोटाला हुआ। भाजपा प्रवक्ता ने कहा, आम आदमी पार्टी (आप) और उसके नेता संजय सिंह ने मांग की थी कि घोटाले के सिलसिले में भूपेश बघेल को गिरफ्तार किया जाए। पात्रा ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस शासन के तहत पीडीएस योजना में 600 करोड़ रुपये के घोटाले का भी आरोप लगाया। उन्होंने दावा किया कि इस संबंध में सभी तथ्य नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट में हैं। उन्होंने कोविड महामारी के दौरान जरूरतमंद लोगों को सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गई केंद्र-प्रायोजित मुफ्त अनाज योजना में 5000 करोड़ रुपये के घोटाले का भी आरोप लगाया।

उन्होंने दावा किया, भूपेश बघेल सरकार ने दिखाया कि महामारी के समय भी मुनाफा कैसे कमाया जा सकता है। प्रधानमंत्री मोदी ने गरीबों के लिए जो चावल भेजा था, उसमें राज्य में 5000 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ। भाजपा नेता ने सरकारी रिक्तियों को भरने में भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद का आरोप लगाया तथा दावा किया कि कांग्रेस नेताओं के कई रिश्तेदारों को छत्तीसगढ़ में सरकारी नौकरी मिली। उन्होंने आरोप लगाया, तबादले और भर्ती के नाम पर करीब 20 हजार शिक्षकों से करोड़ों रुपये वसूले गए। पात्रा ने आरोप लगाया, इतना ही नहीं, निजी कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए शिक्षकों को ‘किलोल पत्रिका’ का आजीवन सदस्य बनाया गया और उनसे करोड़ों रुपये वसूले गए।

यह स्वैच्छिक नहीं, बल्कि अनिवार्य था। भाजपा प्रवक्ता ने कांग्रेस सरकार पर छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण को बढ़ावा देकर आदिवासियों की संस्कृति को नष्ट करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया, मोदी सरकार ने नक्सलवाद को खत्म करने के लिए काम किया। लेकिन, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार ने नक्सलियों को बढ़ावा दिया और उनसे भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्याएं करवाईं। भाजपा नेता ने दावा किया कि बघेल सरकार ने बेरोजगार युवाओं को 2,500 रुपये का मासिक भत्ता देने, बिजली बिल कम करने और राज्य में 200 फूड पार्क स्थापित करने के राहुल गांधी के चुनावी वादे को अभी तक पूरा नहीं किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here