छत्तीसगढ़ के उत्तरी क्षेत्र में भूकंप के झटके, 20 किलोमीटर के दायरे कच्चे मकानों को हो सकता है नुकसान

0
78

छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में शुक्रवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के कारण जान-माल के नुकसान की फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली है। मौसम विज्ञान केंद्र रायपुर के मौसम विज्ञानी एच पी चंद्रा ने बताया कि पूर्वाह्न करीब 10 बजकर 28 मिनट पर अंबिकापुर शहर (सरगुजा जिले का मुख्यालय) में 3.9 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। इसका केंद्र पृथ्वी की सतह से 10 किलोमीटर गहराई में और अंबिकापुर शहर से लगभग 12 किलोमीटर दूर था। चंद्रा ने बताया कि यह हल्की श्रेणी का भूकंप था और कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ, लेकिन इससे भूकंप के केंद्र के 20 किलोमीटर के दायरे में स्थित कच्चे (मिट्टी) मकान को नुकसान हो सकता है।

अधिकारी ने बताया कि पिछले 10 महीनों में छत्तीसगढ़ में यह छठा भूकंप आया। इनमें से ज्यादातर बार भूकंप राज्य के उत्तरी भागों में आए हैं।
अधिकारियों ने बताया कि सरगुजा और पड़ोसी सूरजपुर जिले के कुछ हिस्सों में झटके महसूस किए गए हैं, लेकिन अभी तक किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। उन्होंने बताया कि स्थानीय अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे स्थिति की सावधानीपूर्वक निगरानी करें और यदि नुकसान हुआ है तो इसकी जानकारी दें। इस बीच सूरजपुर जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) ने जिले में भूकंप के झटके महसूस होने के बाद छात्रों की सुरक्षा को देखते हुए सभी सरकारी और निजी स्कूलों में शुक्रवार को छुट्टी घोषित करने का निर्देश दिया है। इसी तरह अंबिकापुर कस्बे में भी कुछ निजी स्कूलों ने शुक्रवार को अवकाश घोषित कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here