छत्तीसगढ़ में सात लाख के इनामी नक्सली दंपत्ति ने किया पुलिस के सामने किया सरेंडर

0
15

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में इनामी नक्सली दंपत्ति ने सुरक्षा बलों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी। दंतेवाड़ा जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले में चल रहे लोन वर्राटू (घर वापस आइए) अभियान से प्रभावित होकर इनामी नक्सली दंपत्ति मलांगेर एरिया कमेटी के अंतर्गत कार्यरत प्लाटून नम्बर 24 का सेक्शन कमाण्डर हुर्रा कुंजाम और उसकी पत्नी प्लाटून नंबर 24 की पार्टी सदस्य बुधरी माड़वी ने सुरक्षा बलों के सामने आत्मसमर्पण किया।

अधिकारियों ने बताया कि नक्सली हुर्रा कुंजाम पर पांच लाख रुपए तथा उसकी पत्नी बुधरी पर दो लाख रुपए का इनाम है। नक्सली दंपत्ति पिछले सात वर्षों से नक्सली संगठन में सक्रिय हैं। उन्होंने बताया कि नक्सली दंपत्ति के खिलाफ 2017 में सुकमा जिले के बुरकापाल गांव के करीब केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों पर हमला करने समेत अन्य बड़े नक्सली घटनाओं में शामिल होने का आरोप है। बुरकापाल हमले में 25 जवानों की मौत हुई थी।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों की घर वापसी के लिए थाना, शिविरों और ग्राम पंचायतों में संबंधित क्षेत्र के सक्रिय माओवादियों का नाम चस्पा कर उनसे आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने लिए आह्वान किया जा रहा है। लोन वर्राटू अभियान के तहत अब तक जिले में 130 इनामी नक्सलियों समेत 539 नक्सलियों ने सुरक्षा बलों के सामने आत्मसमर्पण किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here