हिमाचल में कांग्रेस को मिलेगा दो तिहाई बहुमत, यह समूचे विपक्ष के लिए बूस्टर डोज होगा : सीएम बघेल

0
16

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दावा किया कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को दो तिहाई बहुमत मिलेगा जो न सिर्फ उनकी पार्टी बल्कि समूचे विपक्ष के लिए एक बूस्टर डोज होगा और इसका फायदा विपक्ष को दूसरे राज्यों में भी मिलेगा। हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ पर्यवेक्षक बघेल ने दिए साक्षात्कार में यह भी दावा भी किया कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पांच साल काम नहीं किया जिस कारण वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे पर वोट मांग रहे हैं, लेकिन प्रदेश की जनता ने 12 नवंबर को उन्हें जयराम जी की कहकर सत्ता से विदा करने का मन बना लिया है। हिमाचल प्रदेश की सभी 68 विधानसभा सीटों के लिए 12 नवंबर को मतदान होगा। आठ दिसंबर को मतगणना होगी।

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बघेल ने कहा, अब यह लड़ाई अंतिम दौर में पहुंच चुकी है। जनता ने अपना मन बना लिया है, केवल मतदान की तिथि का इंतजार कर रही है। हिमाचल की जनता परिवर्तन के लिए तैयार है। उन्होंने दावा किया, मैं लगातार घूम रहा हूं, लोगों से बात कर रहा हूं। मुझे लगता है कि हम दो-तिहाई बहुमत हासिल करेंगे। एक सवाल के जवाब में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बघेल ने कहा कि हिमाचल का जनादेश कांग्रेस और पूरे विपक्ष के लिए बूस्टर डोज होगा क्योंकि चुनाव नतीजों का असर होता है। उन्होंने कहा कि हिमाचल के जनादेश का लाभ विपक्ष को अन्य राज्यों में भी मिलेगा।

बघेल ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी यह कहकर मतदाताओं को धमकी दे रहे हैं कि अगर हिमाचल में कांग्रेस की सरकार बन गई तो वह राज्य के विकास के लिए काम नहीं कर पाएंगे। उन्होंने कहा, यह संघीय गणराज्य है, आप काम को नहीं रोक सकते। मेरा आरोप है कि प्रधानमंत्री लोगों को धमकी दे रहे हैं। मैं प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूं कि पांच वर्षों में आप लोगों ने हिमाचल को क्या दिया है? एक राष्ट्रीय राजमार्ग नहीं बना पाए, एक नया हवाई अड्डा नहीं बना पाए, लोगों को अधिकार सम्पन्न नहीं बना पाए तो किस आधार पर वोट मांग रहे हैं?

उन्होंने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि डबल इंजन हिमाचल के लिए ट्रबल इंजन बन गया। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ने बुधवार को हिमाचल के मतदाताओं से सत्ता परिवर्तन की परम्परा को बदलने की अपील करते हुए कहा था कि राज्य में भी भाजपा सरकार होने से विकास कार्यों में दिक्कत नहीं आएगी। मोदी ने यह भी कहा था कि 2014 से 2017 तक हिमाचल में सत्ता में रहने के दौरान कांग्रेस ने उन्हें राज्य के लिए काम नहीं करने दिया। बघेल ने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा, जयराम जी अपने पांच साल के कार्यों के आधार पर वोट नहीं मांग रहे हैं। एक बार भी नहीं कहा कि मैंने पांच साल सेवा की है, मुझे वोट दो। वो मोदी जी के चेहरे पर वोट मांग रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इसका मतलब कि उन्होंने पांच साल तक कोई काम नहीं किया। इसलिए लोग चाहते हैं कि जयराम जी को अब जयराम जी की कहा जाए। बघेल ने आम आदमी पार्टी को भाजपा की बी टीम करार देते हुए कहा, आम आदमी पार्टी की हिमाचल प्रदेश में चुनाव लड़ने की तैयारी थी, लेकिन पंजाब के उनके कारनामों के बारे में यहां पता चल गया तो उन्होंने अपना बोरिया बिस्तर बांध लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here