नक्सल प्रभावित इलाकों में राजनीतिक आयोजनों को पूरी सुरक्षा मिलेगी: सीएम बघेल

0
63

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को कहा कि राज्य के नक्सल प्रभावित इलाकों में सभी राजनीतिक कार्यक्रमों को पूरी सुरक्षा प्रदान की जाएगी। राज्य में इस वर्ष के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। बघेल की इस टिप्पणी से एक दिन पहले राज्य के मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने 12 सितंबर को नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा से शुरू होने वाली अपनी परिवर्तन यात्रा के लिए सुरक्षा की मांग करते हुए पुलिस महानिदेशक को पत्र सौंपा था। बस्तर में अपने नेताओं की हत्या किए जाने की आशंका प्रकट करते हुए भाजपा ने यह भी कहा था कि उसे भूपेश बघेल सरकार पर भरोसा नहीं है। एक कार्यक्रम के दौरान बघेल से जब संवाददाताओं ने इस संबंध में सवाल किया तब उन्होंने कहा, सभी राजनीतिक दलों को पूरी सुरक्षा प्रदान की जाएगी। हमने 2013 में झीरम घाटी (बस्तर में) में अपने नेताओं को खोया है। मुख्यमंत्री ने कहा, हाल ही में एकीकृत कमान की बैठक के दौरान हमने स्पष्ट रूप से निर्देश दिया है कि राज्य के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सभी राजनीतिक कार्यक्रमों को पूरी सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए।

राज्य में 25 मई 2013 को विधानसभा चुनाव से पहले बस्तर जिले की झीरम घाटी में कांग्रेस पार्टी की परिवर्तन रैली के दौरान माओवादियों ने कांग्रेस नेताओं के काफिले पर हमला किया था, जिसमें तत्कालीन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंद कुमार पटेल, पूर्व नेता प्रतिपक्ष महेंद्र कर्मा और पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ल 29 लोगों की मौत हो गई थी। नयी दिल्ली में चल रही जी20 बैठक के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, इसके पहले इंदिरा जी ने सम्मेलन किया था जिसमें 100 राष्ट्रों के प्रमुख आए थे। इसमें (जी20) कुछ लोग नहीं आए हैं और विपक्ष को भी नहीं बुलाया गया है। यह प्रचार करने का एक तरीका है। अभी तक बैठक का कोई परिणाम दिखाई दे नहीं रहा है। आने वाले समय में क्या परिणाम निकलता है, वह हम देखेंगे।

शनिवार को होने वाले जी20 रात्रिभोज में शामिल होने के बारे में एक सवाल पर बघेल ने शुक्रवार को कहा था कि वह कैसे जाएंगे क्योंकि दिल्ली में ‘उड़ान निषिद्ध क्षेत्र’ घोषित किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को कहा है कि मौजूदा जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान राज्यपालों और मुख्यमंत्रियों की अपने राज्य के विमान से दिल्ली या इसके आसपास के इलाकों की यात्रा पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया है, बस निजी चार्टर्ड उड़ानों में यात्रा करने वालों को पूर्व अनुमति की आवश्यकता होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here