छत्तीसगढ़ को 2022-23 में खनिज से मिला रिकॉर्ड 12,941 करोड़ रुपये का राजस्व

0
80

छत्तीसगढ़ ने 2022-23 में खनिजों से रिकॉर्ड 12,941 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित किया है। यह आंकड़ा 2021-22 में अर्जित राजस्व से 636 करोड़ रुपये ज्यादा है। राज्य सरकार के एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। राज्य सरकार की विज्ञप्ति के अनुसार, सबसे ज्यादा 3,607 करोड़ रुपये लौह अयस्क से और उसके बाद 3,336 करोड़ रुपये कोयले से प्राप्त हुए। खनिज राजस्व के मामले में दंतेवाड़ा शीर्ष कमाई करने वाला जिला रहा।

एक अधिकारी ने कहा, “चूना पत्थर और बॉक्साइट से भी अच्छा खासा राजस्व प्राप्त हुआ। दंतेवाड़ा ने 6,419 करोड़ रुपये, इसके बाद कोरबा ने 2,361 करोड़ रुपये, रायगढ़ ने 1,717 करोड़ रुपये, बालोद ने 760 करोड़ रुपये, बलौदा बाजार ने 315 करोड़ रुपये, कांकेर ने 286 करोड़ रुपये और सरगुजा ने 262 करोड़ रुपये का योगदान दिया। भूविज्ञान एवं खनन के संयुक्त निदेशक अनुराग दीवान ने कहा, राज्य सरकार ने राजस्व बंटवारे के आधार पर छत्तीसगढ़ में 29 खनिज ब्लॉकों की नीलामी की है, जिससे आने वाले वर्षों में राज्य को एक लाख करोड़ रुपये प्राप्त होंगे। विज्ञप्ति के अनुसार, राजस्व बंटवारे की व्यवस्था के तहत पहली बार राज्य सरकार चूना पत्थर के दो ब्लॉकों की नीलामी में शामिल होकर 52.52 लाख रुपये अर्जित करने में सफल रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here