छत्तीसगढ़ में सांसद फूलोदेवी नेताम ने महिला कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

0
67

छत्तीसगढ़ से कांग्रेस की राज्यसभा सदस्य एवं वरिष्ठ आदिवासी नेता फूलोदेवी नेताम ने छत्तीसगढ़ प्रदेश महिला कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। नेताम ने कहा है कि वह चाहती हैं कि किसी अन्य महिला को इस पद पर अवसर मिले, इसलिए उन्होंने पद से इस्तीफा दिया है। छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सत्ताधारी दल में संगठन और सरकार के स्तर पर लगातार बदलाव हो रहे हैं। इससे पहले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने अपने पद से इस्तीफा दिया था तथा बाद में मंत्री पद की शपथ ली थी।

प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष नेताम ने मंगलवार को ट्वीट करके कहा, महिला कांग्रेस की अध्यक्ष नेटा डिसूजा जी, आपके मार्गदर्शन और छत्तीसगढ़ प्रदेश महिला कांग्रेस की सभी बहनों के सहयोग स्वरूप ही बतौर छत्तीसगढ़ प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष अपने सात वर्षों के सेवा कार्यों को पूरी निष्ठा से कर पाने में सक्षम हुई हूँ। विनम्र अनुरोध है कि मुझे इस जिम्मेदारी से मुक्त करके इस पद पर किसी अन्य महिला साथी को काम करने का अवसर दिया जाए। नेताम ने अपने में ट्वीट में कहा, पार्टी को सुदृढ करने हेतु समर्पित कार्यकर्ता के रूप में सदैव की भांति कार्यरत रहूँगी। धन्यवाद। उन्होंने ट्वीट में राष्ट्रीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष नेटा डिसूजा को लिखा त्यागपत्र भी साझा किया है। नेताम से यह पूछे जाने पर कि उन्होंने पद से इस्तीफा क्यों दिया है, उन्होंने बताया, मैं पिछले सात वर्षों से इस पद पर हूं। राज्यसभा सदस्य भी हूं। अब चाहती हूं कि अन्य बहनों को यह जिम्मेदारी मिले।

नेताम ने कहा कि उन्हें किसी ने भी इस्तीफा देने के लिए नहीं कहा था। राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने से संबंधित सवाल पर नेताम ने कहा कि वह आलाकमान के निर्देश का पालन करेंगी। इक्यावन वर्षीय नेताम राज्य के बस्तर क्षेत्र के कोंडागांव जिले की निवासी हैं। वह राज्य की वरिष्ठ आदिवासी नेता हैं। वह वर्ष 1998 से वर्ष 2003 तक अविभाजित मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा की सदस्य रही हैं। वह वर्ष 2020 से कांग्रेस पार्टी की ओर से राज्यसभा सदस्य है। राज्य से राज्यसभा की पांच सीटें हैं, जिनमें से चार पर कांग्रेस तथा एक पर भारतीय जनता पार्टी की सदस्य है। छत्तीसगढ़ में इस वर्ष के अंतिम महीनों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सत्ताधारी दल कांग्रेस में संगठन और सरकार के स्तर पर तेजी से बदलाव हो रहा है। पार्टी ने पिछले सप्ताह बुधवार को प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम को हटाकर बस्तर क्षेत्र के सांसद दीपक बैज को प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया था। दूसरे दिन बृहस्पतिवार को वरिष्ठ आदिवासी नेता प्रेमसाय सिंह टेकाम ने मंत्री पद से त्यागपत्र दिया था और शुक्रवार को मरकाम ने मंत्री पद की शपथ ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here