छत्तीसगढ़ में कानून-व्यवस्था बनाए रखें कलेक्टर और एसपी, रात में करें गश्त : सीएम बघेल

0
27

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलेक्टरों एवं पुलिस अधीक्षकों को कानून व्यवस्था को चुस्त दुरूस्त बनाए रखने के लिए समन्वय से कार्य करने तथा पुलिस अधीक्षकों को नियमित रूप से रात में गश्त करने के निर्देश दिए हैं। सीएम बघेल ने दो दिवसीय कलेक्टर व एसपी कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य के भीतर एवं पड़ोसी राज्यों से आने वाले नशीले पदार्थों पर कड़ी निगरानी रखें और इनकी तस्करी को जड़ से खत्म करें।

नशे के नेटवर्क को जड़ से ख़त्म करने के लिए पुलिस सख्त कार्रवाई करे और इसके लिए पड़ोसी राज्यों से भी हर स्तर पर जरूरी समन्वय करें। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि नशे का सामान आसानी से क्यों उपलब्ध हो रहा है। उन्होने नशे की सामग्री की उपलब्धता पर पड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने महिलाओं के विरुद्ध अपराधों की रोकथाम की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि महिला एवं बच्चों से सम्बंधित अपराधों पर पुलिस सख्त कार्रवाई करे। उन्होंने कहा कि अनूसूचित जाति, जनजाति के विरुद्ध अपराधों पर पीड़ित को सहायता राशि शीघ्रता से उपलब्ध कराएं और चाकूबाजी की घटनाओं पर भी तेजी से कार्रवाई करें। उन्होने सभी जिलों के एसपी को निर्देश दिए कि ऐसी घटनाएं बिल्कुल भी ना हों और अपराधियों के साथ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाएं।

सीएम बघेल ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों से विजिबल पुलिसिंग पर फोकस करने के निर्देश देते हुए कहा कि सभी एसपी स्वयं रात्रि गश्त में निकलें। उन्होंने कहा कि महिलाओ के विरुद्ध अपराधों को रोकने के लिए राज्य में जल्द ही महिला गश्त पीसीआर वाहनों की शुरूआत की जाएगी। पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा ने कांफ्रेंस की शुरुआत में राज्य में अपराध की स्थिति और चिटफंड कंपनियों पर की गई कार्रवाई के बारे में मुख्यमंत्री को विस्तार से जानकारी दी। चिटफंड के मामलों में धीमी कार्रवाई पर मुख्यमंत्री सीएम बघेल ने नाराजगी जताई और चिटफंड कंपनियों पर तेजी से कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होने निर्देश दिया कि चिटफंड कंपनियों की अन्य प्रदेशों में संपत्ति की कुर्की की कार्रवाई करें और कोर्ट के माध्यम से ऐसे मामलों में शीघ्र कुर्की कराएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here