राज्यसभा चुनाव : क्रॉस वोटिंग का भय, हरियाणा से रायपुर पहुंचे कांग्रेस के 27 विधायक

0
54
congress
congress

हरियाणा में राज्यसभा की दो सीटों के लिए हो रहे ​चुनाव में खरीद-फरोख्त से बचने के लिए हरियाणा से ​कांग्रेस के 27 विधायक बुधवार को रायपुर पहुंचे। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ नेताओं ने यह जानकारी दी। कांग्रेस नेताओं ने बताया कि हरियाणा के 27 विधायक बुधवार शाम विशेष विमान से रायपुर के स्वामी विवेकानंद विमानतल पहुंचे। उन्होंने बताया कि रायपुर पहुंचे हरियाणा के विधायकों का राज्य के वरिष्ठ नेताओं ने स्वागत किया। बाद में वह दो बसों में सवार होकर नया रायपुर स्थित एक रिसोर्ट के लिए रवाना हो गए। पार्टी सूत्रों के अनुसार, ये विधायक दिल्ली में कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा के आवास पर एकत्र हुए और फिर वे विमान से रायपुर रवाना हुए। हरियाणा में कांग्रेस के कुल 31 विधायक हैं जिनमें किरण चौधरी और कुलदीप बिश्नोई जैसे वरिष्ठ नेता भी शामिल हैं। बिश्नोई और किरण चौधरी के इन दिनों नाराज होने की खबरें हैं।

सूत्रों का कहना है कि पार्टी के एक अन्य विधायक चिरंजीव राव अपने जन्मदिन की वजह से रायपुर नहीं आ सके हैं, हालांकि वह पूरी तरह कांग्रेस के साथ हैं। सूत्रों के अनुसार, ​हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता भूपिंदर सिंह हुड्डा बृहस्पतिवार को रायपुर पहुंच सकते हैं। हरियाणा से राज्यसभा की दो सीटों के लिए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने कृष्ण लाल पंवार और कांग्रेस ने अजय माकन को उम्मीदवार बनाया है। विधानसभा में पार्टियों के विधायकों की संख्या के आधार पर पंवार का निर्वाचन तय है, लेकिन माकन को चुनावी मुकाबले का सामना करना होगा क्योंकि दूसरी सीट के लिए एक मीडिया समूह के मालिक कार्तिकेय शर्मा ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन दाखिल किया है। कार्तिकेय राज्य के पूर्व मंत्री विनोद शर्मा के पुत्र हैं।

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के नेताओं ने आशंका जताया है हरियाणा में राज्यसभा चुनाव के दौरान भारतीय जनता पार्टी गड़बड़ी कर सकती है। राज्य के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने संवाददाताओं बातचीत में कहा, ”भाजपा लोकतंत्र की हत्या करने पर आमादा है। बहुमत हमें मिलता है, सरकार अमित शाह जी बना लेते हैं। कई राज्यों का उदाहरण है। कहीं ऐसी कोई चूक न हो जाए इसलिए राज्यसभा चुनाव से पहले यदि सावधानी में यह (हरियाणा के विधायकों को छत्तीसगढ़ लाना) किया जा रहा है। मैं समझता हूं कि यह कहीं से भी अनुचित नहीं है। इधर राज्य के मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने हरियाणा के विधायकों को रायपुर लाए जाने को लेकर कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कांग्रेस का इंतजाम करने वाले रह गए हैं।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने एक बयान में कहा, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दिल्ली में कांग्रेस के मालिकों के सामने छत्तीसगढ़ का मान, सम्मान, स्वाभिमान गिरवी रख आए हैं। अब इनका काम इनके मालिकों की जीहजूरी करना ही रह गया है। भूपेश बघेल इंतजाम अली बनकर रह गए हैं। साय ने कहा है, हमारे मुख्यमंत्री कांग्रेस के दिल्ली दरबार को कुर्सी की कीमत चुका रहे हैं। छत्तीसगढ़ को कांग्रेस का एटीएम बनाया तो बनाया, साथ ही राज्य को कांग्रेस का राजनीतिक पर्यटन केंद्र भी बना दिया। हरियाणा की 90 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 40 और कांग्रेस के 31 विधायक हैं। वहीं भाजपा की सहयोगी जजपा के 10 विधायक हैं। विधानसभा में इंडियन नेशनल लोक दल और हरियाणा लोकहित पार्टी के एक-एक और सात निर्दलीय विधायक हैं। गत मंगलवार को नामांकन भरने की आखिरी तारीख थी जबकि नाम वापस लेने की आखिरी तारीख तीन जून है। राज्यसभा की दोनों सीटों के लिये मतदान 10 जून को होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here