छत्तीसगढ़ में जादू-टोने के संदेह में महिला की ​अग्नि परीक्षा, आरोपी गिरफ्तार

0
76

छत्तीसगढ़ पुलिस ने जादू-टोना करने के संदेह में एक महिला को जलते कोयले और कील पर चलाकर उसकी ‘अग्नि परीक्षा’ लेने के आरोप में पीड़िता के तीन रिश्तेदारों को गिरफ्तार कर लिया है और नाबालिग तांत्रिक को भी पकड़ लिया है। पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि घटना पुलगांव थाना क्षेत्र की है। उन्होंने बताया कि ममता निषाद की अग्नि परीक्षा लेने के आरोप में उसके देवर नाथूराम निषाद, देवरानी यामिनी निषाद और जेठानी दुर्गा निषाद को गिरफ्तार किया गया है और तथा नाबालिग तांत्रिक को पकड़ लिया गया है। हालांकि, बाद में सभी को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

उन्होंने बताया कि ममता ने पुलिस में शिकायत की थी कि उनकी देवरानी, जेठनी और देवर को उसपर ‘टोनही’ (जादू-टोना करने वाली या डायन) होने का शक था और इसके कारण वह उसे परेशान करते थे। तहरीर के अनुसार, इसी संदेह में तीनों ममता को 20 तारीख की रात को एक तांत्रिक के पास ले गए थे। यहां तांत्रिक ने अग्नि परीक्षा लेने के नाम पर ममता को जलते कोयले और बाद में कील पर चलाया था। इस घटना में ममता घायल हो गई थी। पुलिस ने बताया कि घर पहुंचकर ममता ने इसकी जानकारी अपने पति को दी तब दोनों पुलिस चौकी पहुंचे और शिकायत दर्ज कराई। बाद में पुलिस ने 21 तारीख को तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और नाबालिग तांत्रिक को भी पकड़ लिया गया। उन्होंने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि तीनों आरोपी और तांत्रिक जमानत पर रिहा हो गए हैं। पुलिस ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here