हत्या और आगजनी के नौ मामलों में वांछित माओवादी का छत्तीसगढ़ पुलिस के सामने सरेंडर

0
96

हत्या और आगजनी के कम से कम नौ मामलों में कथित तौर पर संलिप्त एक माओवादी ने मंगलवार को छत्तीसगढ़ के दांतेवाड़ा जिले में पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राजू लेकाम (35) पड़ोसी बीजापुर जिले के बैरमगढ़ क्षेत्र में माओवादियों के जनताना सरकार इकाई में सक्रिय था और उसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित था। अधिकारी ने बताया कि पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण करने के दौरान लेकाम ने बताया कि उसने पुलिस के पुनर्वास कार्यक्रम ‘लोन वर्रातु’ से प्रभावित होकर और माओवादियों की ‘खोखली’ विचारधारा से हताश होकर यह कदम उठाया है।

उन्होंने बताया कि लेकाम एक दशक से अधिक समय से प्रतिबंधित संगठन से जुड़ा हुआ था और हत्या, पुलिस टीम पर हमले, इलाके में रेल पटरियों को उखाड़ने सहित कम से कम नौ मामलों में वांछित था। अधिकारी ने बताया कि लेकाम वर्ष 2013 से 2020 तक दक्षिण बस्तर में चार लोगों की हत्या के अलग-अलग मामले में वांछित था जिन पर उसने पुलिस मुखबिर होने का आरोप लगाया था। उन्होंने बताया कि जून 2020 में पुलिस द्वारा शुरू ‘लोन वर्रातु’ (अपने घर या गांव को लौटो) योजना के तहत अब तक 150 इनामी सहित कुल 592 माओवादी आत्मसमर्पण कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here