बघेल को मुख्यमंत्री पद पर रहना चाहिए या नहीं? नेतृत्व तय करे, कांग्रेस के आरोपों पर रमन सिंह का पलटवार

0
56

छत्तीसगढ़ में कथित शराब घोटाले को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस का केंद्रीय नेतृत्व तय करे कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पद पर बने रहने का अधिकार है या नहीं। पूर्व मुख्यमंत्री सिंह सत्तारूढ़ दल कांग्रेस के उस दावे पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे जिसमें कहा गया कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के दौरान 4,400 करोड़ रुपये का शराब घोटाला हुआ था। कांग्रेस के आरोपों को लेकर सिंह ने पलटवार करते हुए कहा, ”इससे बड़ा मजाक नहीं हो सकता। वह (बघेल) चार साल से मुख्यमंत्री के पद पर बैठे हैं। बार-बार एसआईटी का गठन किया जा चुका है। एक रूपए का भी भ्रष्टाचार प्रमाणित होता तो क्या कार्रवाई नहीं होती। अपनी चोरी को छुपाने के लिए वह सबको भ्रष्ट बताने की कोशिश कर रहे हैं।

भाजपा के प्रदेश मुख्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने कहा, ”राज्य में रोज नए भ्रष्टाचार उजागर हो रहे हैं। शराब मामले में 2000 करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार सामने आया है। लोगों की संपत्ति जब्त हो रही है। यह वहीं लोग हैं जो सिंडिकेट चलाते हैं। सिंह ने कहा, ”राज्य में 2000 करोड़ रुपए के शराब भ्रष्टाचार का मामला उजागर हो चुका है। पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व को निर्णय लेना चाहिए कि ऐसे व्यक्ति (मुख्यमंत्री बघेल) को इस पद पर बने रहने का अधिकार है या नहीं। इससे पहले, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने आरोप लगाया था कि वर्ष 2012 से 2017 के बीच रमन सिंह के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के दौरान 4400 करोड़ रुपये का शराब घोटाला हुआ था। राज्य में कथित 2000 करोड़ रुपए के शराब घोटाले के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कांग्रेस नेता और रायपुर महापौर एजाज ढेबर के भाई अनवर ढेबर सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here