बच्चों के पढ़ने और बढ़ने में कोई बाधा न आए, सीएम भूपेश बघेल ने दी नए शिक्षा सत्र और शाला प्रवेशोत्सव की बधाई

0
56

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज से शुरू हुए नए शिक्षा सत्र और शाला प्रवेशोत्सव के पावन अवसर पर सभी को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। सीएम बघेल ने अपने शुभकामना संदेश में कहा कि कोराना संक्रमण और लॉकडाउन के कारण विगत दो वर्षों में नियमित शालाएं गतिविधियां प्रभावित हुई हैं, लेकिन हमने यह सुनिश्चत किया है कि किसी भी स्थिति में बच्चों के पढ़ने और बढ़ने में कोई बाधा न आए और उनका साल खराब न जाए। उन्होंने कहा कि नए शिक्षा सत्र 2022 की शुरुआत हम बहुत उम्मीदों के साथ कर रहे हैं कि इस वर्ष नियमित शालाएं संचालित हों, साथ ही पिछले सत्रों में हुए नुकसान की भरपाई भी हो सके। नए सत्र के साथ हम नए कार्यों का आगाज भी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में गत 15 से अधिक वर्षों के दौरान 400 से अधिक शालाएं विभिन्न कारणों से बंद हो चुकी थी, जहां शालाओं का नियमित संचालन प्रारंभ करने की मांग स्थानीय समुदाय तथा पालकों द्वारा की जा रही थी। इस तरह इन अंचलों में 260 स्कूलों का नियमित संचालन प्रारंभ करने जा रहे हैं, जिनसे हजारों बच्चों की शिक्षा की बुनियाद मजबूत होगी। सीएम बघेल ने कहा कि कोरोना लॉकडाउन के दौरान पढ़ई तुहर दुआर प्लेटफॉर्म उपलब्ध करवाया था। जिसका अच्छा उपयोग हमारे शिक्षकों, पालकों एवं विद्यार्थियों ने किया। उन्होंने उम्मीद जताई है कि नवाचार और नई प्रौद्योगिकी अपनाने का सिलसिला आगे भी जारी रहे। शिक्षा को रुचिकर बनाने के प्रयासों का स्वागत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here