छत्तीसगढ़ में वज्रपात: आकाशीय बिजली गिरने से तीन की मौत, 52 बकरियां भी मरीं

0
25

छत्तीसगढ़ के तीन जिलों में रविवार को आकशीय बिजली गिरने की अलग-अलग घटनाओं में तीन व्यक्तियों और 52 बकरियों की मौत हो गई। यह जानकारी पुलिस ने दी। पुलिस ने बताया कि गरियाबंद जिले में एक चरवाहा और उसकी बकरियों का झुंड आकाशीय बिजली की चपेट में आ गया जबकि मुंगेली और बलौदाबाजार-भाटापारा जिलों में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। पुलिस ने बताया कि चरवाहे की पहचान चिंतामणि धरखड़ (22) के तौर पर हुई है। गरियाबंद के पुलिस अधीक्षक जे आर ठाकुर ने कहा कि धनखड़ सहसपुर गांव के पास बकरियां चरा रहा था तभी बारिश होने लगी और उसने एक बड़े पेड़ के नीचे शरण ली और जानवरों को भी वहीं ले आया। उन्होंने बताया कि आकाशीय बिजली गिरने से उसकी और 52 बकरियों की मौके पर ही मौत हो गई।

एक अधिकारी ने कहा कि मुंगेली में उस समय आकाशीय बिजली गिरी जब सुखदेव खांडे (23) ठाकुरिकापा गांव स्थित अपने खेत से घास निकाल रहा था, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उन्होंने बताया कि एक अन्य घटना में बलौदाबाजार जिले के रोहासी गांव में 40 वर्षीय एक महिला अनीता साहू की बिजली गिरने से मौत हो गई, जब वह खेत में धान बो रही थी। इस बीच एक सरकारी बयान में कहा गया कि राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घटनाओं पर दुख व्यक्त किया और अधिकारियों को प्रत्येक मृतक के परिजनों को राजस्व पुस्तक परिपत्र (आरबीसी) के प्रावधानों के तहत 4 लाख रुपये मुआवजा प्रदान करने का निर्देश दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here