छत्तीसगढ़ में आदिवासी व्यक्ति को चोरी के संदेह में पिटा; तीन को पकड़ा

0
59

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में मोबाइल फोन चोरी के संदेह में एक आदिवासी व्यक्ति को कथित तौर पर खुदाई करने वाली मशीन से बांध कर उसकी पिटाई की गई। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि घटना के सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रतापपुर के स्टेशन हाउस अधिकारी (एसएचओ) किशोर केरकेट्टा ने बताया कि यह घटना मंगलवार को प्रतापपुर पुलिस थाना क्षेत्र स्थित मायापुर गांव के पास हुई। उन्होंने बताया कि शिकायतकर्ता कलिंदर राम शांडिल्य निर्माणाधीन सड़क से होते हुए मायापुर से अपने गांव सरहरी की ओर जा रहे थे, तभी आरोपियों ने उन्हें उस स्थान पर रोका, जहां एक जेसीबी मशीन खड़ी थी।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि तीनों ने शांडिल्य पर मोबाइल फोन चोरी करने का आरोप लगाया और उनके साथ दुर्व्यवहार किया। फिर उन्होंने कथित तौर पर उसके हाथों को रस्सी द्वारा खुदाई करने वाली मशीन से बांध दिया और बेरहमी से पीटा। आरोपियों की पहचान अभिषेक पटेल, कृष्ण कुमार पटेल और सोनू राठौड़ के रूप में हुई। ये सभी सड़क निर्माण का काम कर रहे थे।

शांडिल्य के परिजन जब मौके पर पहुंचे तो उन्होंने उसे छोड़ दिया। एसएचओ केरकेट्टा ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की एक टीम शांडिल्य के घर गई जहाँ उसने उन्हें बताया कि आरोपियों ने पुलिस को मामले की सूचना देने पर उसे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी थी। तीनों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 294 (अश्लील कृत्य), 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाना), 341 (गलत तरीके से रोकना) और 506 (आपराधिक धमकी) और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार की रोकथाम) अधिनियम के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया। अधिकारी ने बताया कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और मामले की जांच जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here