छत्तीसगढ़ में ऐसा क्या हुआ कि एक ही दिन में छह लोगों ने कर ली आत्महत्या, किसी ने घर में लगाई फांसी तो कोई पेड़ पर लटका मिला

0
33

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में शुक्रवार को दो लड़कियों समेत छह लोगों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के रतनपुर थाना क्षेत्र में एक युवक और युवती पेड़ पर फांसी से लटके मिले जबकि मस्तुरी थाना क्षेत्र के एक गांव में आधे घंटे के अंतराल में एक युवक और युवती ने फांसी लगाकर जान दे दी। अधिकारियों के अनुसार सीपत थाना क्षेत्र के दो गांवों में दो लोगों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

रतनपुर थाना के प्रभारी शांत कुमार साहू ने बताया कि पुलिस ने शुक्रवार रात पोड़ी गांव के जंगल में गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के निवासी बादल चौधरी (22) और 17 वर्षीय एक लड़की को पेड़ पर फांसी लटका पाया। साहू ने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि युवक और लड़की 29 सितंबर को घर से कहीं चले गए थे। साहू के अनुसार पुलिस ने घटनास्थल से एक मोटरसाइकल बरामद किया गया है और पुलिस को आशंका है कि युवक और लड़की के मध्य प्रेम-संबंध था जिसके कारण उन्होंने आत्महत्या की है।

मस्तुरी थाना क्षेत्र के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि क्षेत्र के जैतपुर गांव में एक युवक गौरीशंकर भैना (18) और 17 वर्षीय एक लड़की ने आधे घंटे के अंतराल में फांसी लगाकर जान दे दी है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि गौरीशंकर ने शुक्रवार को दोपहर करीब एक बजे अपने घर में फांसी लगा ली जिसके कुछ देर बाद पड़ोस में एक लड़की ने भी अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। उन्होंने बताया कि पुलिस को आशंका है कि प्रेम संबंध के कारण गौरीशंकर और लड़की ने अपनी जान दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जिले के सीपत थाना के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि क्षेत्र के दो गांव कुली और मचखंडा में रामेश्वर यादव (65) और करण धनुवार (22) ने शुक्रवार को अपने-अपने घरों में फांसी लगा ली। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों मनोरोगी थे। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है तथा मामले की जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here