Chhattisgarh Sarkar Decision: सीएम बघेल का बड़ा ऐलान, 10वीं और 12वीं की परीक्षा में टॉप करने वाले छात्रों को हेलीकॉप्टर की सैर कराएगी छत्तीसगढ़ सरकार

0
8

छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश के छात्रों को बड़ी घोषणा की है। सीएम भूपेश बघेल गुरुवार को बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के राजपुर में कहा 10वीं और 12वीं की परीक्षा में जिले में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को हेलीकॉप्टर राइड कराई जाएगी। साथ ही उन्होंने गोबर खरीदी के बाद अब गौ मूत्र की खरीदी प्रारंभ करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि गौ मूत्र से दवाईयां बनाई जाएगी, इससे महिलाओं और ग्रामीणों को आय का एक और जरिया मिलेगा। जिले के टॉपर प्रदेश के टॉप टेन विद्यार्थियों के साथ हेलीकॉप्टर में घूमेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए 10वीं और 12वीं की परीक्षा में जिले में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को हेलीकॉप्टर राइड कराएंगे, जिससे अन्य छात्र-छात्राएं भी प्रोत्साहित हों और उनके सपनों को उड़ान मिले। दसवी-बारहवी के प्रदेश व जिला टॉपर्स को मुख्यमंत्री टॉपर्स चॉपर राइड से अनूठी अभिप्रेरणा मिलेंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि 4 मई को मैंने सामरी विधानसभा क्षेत्र के भ्रमण के दौरान तीन आत्मानंद इंग्लिश माध्यम स्कूलों का भी निरीक्षण किया। इन स्कूलों में विद्यार्थियों से बात करके मुझे लगा कि विद्यार्थियों में बहुत प्रतिभा है आवश्यकता है तो सिर्फ उन्हें मजबूत प्रेरणा देने की। बहुत जल्दी दसवी और बारहवीं कक्षाओं के परिणाम घोषित होने वाले हैं।

Chhattisgarh Sarkar Decision: सीएम बघेल की एक और घोषणा, शंकरगढ़ में खुलेगा कृषि महाविद्यालय, तीन सड़कों का भी होगा निर्माण

मुझे पूरा विश्वास है कि अगर हमारे विद्यार्थियों को कोई अनूठी प्रेरणा मिलेगी, कोई अनूठा प्रतिफल निर्धारित होगा तो उनमें सफलता अर्जित करने की अभिप्रेरणा का स्तर और भी बढ़ जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने जब हेलीकॉप्टर से लैंड किया तो देखा, बहुत से बच्चे और परिपक्व उम्र के लोग भी हेलीकॉप्टर को देखकर बहुत उत्साहित और कौतुहल में थे। उनकी आंखों की चमक बता रही थी कि उनमें हेलीकॉप्टर के प्रति कितना आकर्षण है। इसलिये मैने यह निर्णय लिया है कि कक्षा दसवीं एवं बारहवीं में प्रदेश के टॉप टेन विद्यार्थियों के साथ साथ जिले के दसवी एवं बारहवी के टॉपर विद्यार्थियों को रायपुर आमंत्रित करके उनका सम्मान किया जाये तथा उन्हें हेलीकॉप्टर की राइड कराई जाए। हवाई यात्रा करना एक ऐसी इच्छा है जो छोटे बच्चे से लेकर बड़े बूढों तक में विद्यमान रहती है। मुझे विश्वास है कि हेलीकॉप्टर राइड करने से बच्चों के मन में जीवन के आसमान में भी ऊँची उड़ान भरने की आकांक्षा जागेगी और वे अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये अपनी प्रतिमा को और भी प्रखर बनायेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here