टीएस सिंहदेव का पंचायत विभाग से इस्तीफा अभी नहीं मिला है : सीएम बघेल

0
33

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को कहा कि उन्हें अभी तक मंत्री टी एस सिंहदेव का पंचायत विभाग से इस्तीफा नहीं मिला है और उन्हें इस्तीफा देने के उनके फैसले की जानकारी मीडिया से मिली है। इस बीच, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि उन्होंने एआईसीसी महासचिव के. सी. वेणुगोपाल, बघेल और सिंहदेव से इस मुद्दे पर बात की है और इस पर आवश्यक कदम उठाया जाएगा। पुनिया 15 जुलाई से रायपुर के दौरे पर आए हैं। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में सत्तारूढ़ कांग्रेस में बघेल और सिंहदेव के बीच खींचतान चल रही है तथा सिंहदेव ने शनिवार को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफा दे दिया। वह स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा और जीएसटी विभागों के मंत्री बने रहेंगे।

इस घटनाक्रम के बारे में पूछे जाने पर बघेल ने पत्रकारों से कहा कि उन्हें मंत्री के कदम के बारे में मीडिया के जरिए पता चला और इस्तीफा मिलने के बाद ही वह इस पर विचार करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा, ”मैंने उनसे (सिंहदेव) बात नहीं की है। मैंने उन्हें बीती रात फोन करने की कोशिश की थी, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया। मंत्रिमंडल में समन्वय की कमी के भाजपा के आरोपों का खंडन करते हुए बघेल ने कहा, “जो भी मामला है, हम मिल बैठकर सुलझा लेंगे।” इस बीच, पुनिया ने कहा कि सिंहदेव ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि उन्हें पंचायत विभाग के कार्यभार से मुक्त कर दिया जाए और बघेल को एक बार अनुरोध पत्र मिलने के बाद इस मुद्दे को सुलझा लिया जाएगा।

कांग्रेस नेता ने एक टीवी चैनल से कहा, अभी तक कुछ नहीं हुआ है। सिंहदेव ने मुख्यमंत्री को लिखे अपने इस्तीफे में दावा किया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बेघर लोगों के लिए एक भी मकान नहीं बनाया गया और ”बार-बार अनुरोध” के बावजूद निधि आवंटित नहीं की गई। बघेल को लिखे चार पन्नों के पत्र में सिंहदेव ने इस्तीफे के कई कारण गिनाये हैं। उन्होंने कहा कि वह वर्तमान स्थिति को देखते हुए ‘जन घोषणापत्र’ में किये गए वादे के अनुसार विभाग के लक्ष्य पूरे नहीं कर पाए। पत्र में सिंहदेव द्वारा किये गए दावों पर पुनिया ने कहा कि यह मंत्री का अनुभव है और इस पर मुख्यमंत्री जवाब दे सकते हैं कि यह कितना सही और कितना गलत है।

पुनिया ने कहा, “जो भी निर्णय लिया जाएगा, उस बारे में आपको (मीडिया) सूचित कर दिया जाएगा। मैंने इस मुद्दे पर सिंहदेव, मुख्यमंत्री और के. सी. वेणुगोपाल से बात की है और आवश्यक कदम उठाया जाएगा। कांग्रेस ने रविवार शाम सात बजे मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास पर विधायक दल की एक बैठक बुलाई है, जिसमें 18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव और 20 जुलाई से शुरू हो रहे राज्य विधानसभा के मॉनसून सत्र पर चर्चा होगी। पार्टी के एक नेता ने बताया कि बैठक में सिंहदेव के एक विभाग छोड़ने के मुद्दे पर भी चर्चा होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here