छत्तीसगढ़ में मां ने बेटे को तालाब में फेंका तो दादी ने पोती को कुएं में, दोनों गिरफ्तार

0
70

छत्तीसगढ़ के दुर्ग और सूरजपुर जिले में पुलिस ने अलग-अलग घटनाओं में छह माह के बेटे और 15 दिन की पोती की हत्या करने आरोप में मां और दादी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। पुलिस अधिकारियों ने बताया​ कि मां ने आर्थिक तंगी के कारण बेटे को तालाब में फेंक दिया था। वहीं पुत्र की चाह रखने वाली दादी ने नवजात कन्या को कुएं में डूबा दिया था। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

दुर्ग जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने छह माह के दीपांशु यादव की हत्या के आरोप में उसकी मां मालती यादव (30) को गिरफ्तार कर​ लिया है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि 31 मार्च को मालती यादव ने जिले के नगपुरा पुलिस थाने में अपने पुत्र दीपांशु के लापता होने का मामला दर्ज कराया था। मालती ने पुलिस को बताया था कि जब वह अपनी मां के घर में सोई थी तब उसका बेटा दीपांशु उसके करीब ही सोया था, लेकिन रात करीब तीन बजे वह उठी तो दीपांशु वहां नहीं था। उन्होंने बताया कि मालती की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और मामले की छानबीन शुरू की। इधर दूसरे दिन एक अप्रैल को बालक का शव गांव के एक तलाब में दिखा, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जब पुलिस ने मालती की मां के घर के करीब लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की तब जानकारी मिली कि रात में मालती ही अपने बच्चे को लेकर निकली थी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जब पुलिस ने मालती से पूछताछ की तब उसने बताया कि उसका पति नशे का आदी है और वह इससे बहुत परेशान थी। पति की इन हरकतों के कारण उसके परिवार को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा था। इस दौरान उसे बच्चे की चिंता होने लगी थी कि वह बड़ा होकर क्या करेगा। उन्होंने बताया कि मालती ने इन्हीं परेशानियों के कारण बालक की हत्या करना तय किया और उसे तालाब में फेंक दिया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बेटे की हत्या के आरोप में पुलिस ने मां मालती को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। इधर सूरजपुर जिले की पुलिस ने 15 दिन की बालिका की हत्या के आरोप में उसकी दादी मिताली विश्वास (48) को गिरफ्तार कर लिया है।

सूरजपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस महीने की एक तारीख को करंजी गांव निवासी पंकज विश्वास ने पुलिस में मामला दर्ज कराया था कि उसके बेटे की नवजात बच्ची लापता है। पंकज ने आशंका जताई थी कि किसी ने बच्ची को उठा लिया है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस दल ने बच्ची की खोज शुरू की। बालिका की खोज के दौरान जब पुलिस दल ने बाड़ी में बने कुएं की तलाशी ली तब वहां से बालिका का शव बरामद किया गया। उन्होंने बताया कि पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू की और घर के सदस्यों से पूछताछ की।

पूछताछ के दौरान नवजात बच्ची की मां ने बताया कि जब यह बच्ची के साथ लेकर सो रही थी तब उसकी सास मिताली विश्वास बच्ची को उठाकर ले गई थी। जब वह सोकर उठी तो उसने अपनी सास से बच्चे के बारे में पूछा तब सास ने इससे इंकार कर दिया।
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने संदेह के आधार पर मिताली से कड़ाई से पूछताछ की तब उसने बताया कि उसने ही बच्ची की हत्या की है। मिताली ने पुलिस को बताया कि वह लड़के की चाह रखती थी लेकिन जब उसके घर में बच्ची पैदा हुई तब उसने इसे स्वीकार नहीं किया और उसकी हत्या कर दी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने बालिका की हत्या के आरोप में मिताली को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here