केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का बघेल सरकार पर निशाना, बोलीं-छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के राज में आदिवासी महिलाएं असुरक्षित

0
17

बिलासपुर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता एवं केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में कांग्रेस के राज में आदिवासी महिलाएं सुरक्षित नहीं है और इस समुदाय के 16 लाख परिवारों से उनका आवास छीन लिया गया। ईरानी शाम यहां नेहरू चौक में भाजपा महिला मोर्चा की ओर से आयोजित जनसभा को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि आदिवासी समुदाय के विकास के लिए भाजपा हमेशा से तत्पर रही है। संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के कार्यकाल में आदिवासी विकास के लिए मात्र 22 हजार करोड़ रूपये पूरे देश का बजट होता था। वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार ने 60 हजार करोड़ रुपयों का प्रावधान किया है।

उन्होंने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर तंज कसते हुए कहा कि उनकी सरकार को जनता की भलाई के बजाय जनता की तिजोरी लूटने में रूचि है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस सरकार का रिमोट सोनिया नहीं बल्कि सौम्या (सौम्या चौरसिया मुख्यमंत्री कार्यालय में उप-सचिव के पद पर कार्यरत) के हाथ में है जिनके परिसरों में हाल में आयकर और प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने तलाशी ली है। उन्होंने कहा कि सीएम बघेल प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मिलकर जनता की तिजोरी को लूट रहे हैं और कांग्रेस की तिजोरी को भर रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं जब छत्तीसगढ़ पहुंची तो मुझे किसी ने बताया कि बघेल ने कहा है कि स्मृति से यह पूछा जाना चाहिए कि प्रदेश में भारतीय रेल की क्या स्थिति है। मैं उनसे कहना चाहती हूं कि आजकल उनका होमवर्क राहुल गाँधी की तरह कच्चा पड़ गया है।

अकेले बिलासपुर रेलवे जोन में 9400 करोड़ रुपये किसी ने दिये हैँ तो वह पीएम नरेंद्र मोदी मोदी ने दिया, आपकी मैडम ने नहीं दिया। केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा, जब से हमने उन्हें अमेठी से विदा किया है, वह भारत की यात्रा पर निकले हैं और उनकी यह यात्रा अभी तक पूरी नहीं हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि गांधी अपनी यात्रा के दौरान ऐसे लोगों से मिल रहे हैं जो देश विरोधी गतिविधियों से जुड़े हुए हैं। उन्होंने किसी का नाम लिए बिना कहा, तमिलनाडु में वह एक ऐसे व्यक्ति के संपर्क में आये जिन्होंने कहा कि भारत की पुण्य भूमि में पैर न धरो, बीमार हो जाओगे। वह जब केरल पहुंचे तो उन्होंने एक ऐसे व्यक्ति की पीठ थपथपाई जिसने गौमाता की हत्या कर उसका सर काटकर इंटरनेट में उसकी फोटो चिपकाई। वह अपनी यात्रा में ऐसे लोगों को लेकर चल रहे हैं जिन्होंने इस बात का ऐलान किया है कि कश्मीर में रिफेरेंडम (जनमत संग्रह) होना चाहिए। यहां तक कि वह अपनी यात्रा में एक ऐसे व्यक्ति के साथ चले जिसके बारे में कहा जाता है कि उसने मुम्बई में पाकिस्तान के आतंकी हमले के दौरान आतंकवादियों को रास्ता दिखाया था।

स्मृति ईरानी ने खुद को अमेठी की महतारी बताते हुए कहा, छत्तीसगढ़ की माताओं-बहनों ने आज राज्य की भूपेश सरकार के खिलाफ आवाज उठाई है। हुंकार भरी है। महतारी हुंकार रैली के जरिए उन्होंने बता दिया कि आम महिलाओं की ताक़त क्या है। इससे पहले ईरानी दोपहर को भाजपा महिला मोर्चा की ‘महतारी हुंकार’ रैली में शामिल हुई। रैली शहर के जगमल चौक के समीप पटेल मैदान से आरम्भ हुई जो शहर के मुख्य मार्ग से होते हुए नेहरू चौक में जनसभा में तब्दील हो गयी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, केन्द्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह, राज्य सभा सदस्य सरोज पाण्डेय और भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत ने भी सभा को संबोधित किया। इस मौके पर रायपुर के कद्दावर भाजपा नेता बृजमोहन अग्रवाल, पूर्व मंत्री बिलासपुर के अमर अग्रवाल, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक समेत बहुत से नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here