छत्तीसगढ़ सरकार पर भाजपा और आप का निशाना, डिप्टी सीएम के रूप में सिंहदेव की नियुक्ति छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का डैमेज कंट्रोल

0
52

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आम आदमी पार्टी (आप) ने टी एस सिंहदेव को छत्तीसगढ़ का उपमुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर बृहस्पतिवार को कांग्रेस पर निशाना साधा और सवाल किया कि क्या वह आगामी चुनावों में पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे क्योंकि लोगों का मौजूदा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर से भरोसा उठ गया है। सरगुजा राजघराने से ताल्लुक रखने वाले सिंहदेव फिलहाल राज्य सरकार में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, 20 सूत्री क्रियान्वयन और वाणिज्यिक कर (जीएसटी) विभाग संभाल रहे हैं।

सत्तारूढ़ कांग्रेस ने बुधवार को घोषणा की कि पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने उप मुख्यमंत्री के रूप में उनकी नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इस घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा के सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख अमित मालवीय ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष खरगे द्वारा सिंहदेव को छत्तीसगढ़ का उप मुख्यमंत्री नियुक्त करना ‘बहुत समस्या’ पैदा करने वाला है क्योंकि यह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संवैधानिक जनादेश को कम करता है। भाजपा नेता ने एक ट्वीट में आरोप लगाया, ”कर्नाटक से पहले बघेल कांग्रेस को कोष उपलब्ध कराते थे, लेकिन कर्नाटक जीतने के तुरंत बाद एक बार कोष का एक वैकल्पिक स्रोत उपलब्ध होने के बाद, उनका कद छोटा कर दिया गया। मालवीय ने सवाल किया, क्या सिंहदेव को अब मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में पेश किया जाएगा क्योंकि बघेल बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं और एक बोझ बन गए हैं?

आप के छत्तीसगढ़ प्रभारी संजीव झा ने कहा कि राज्य विधानसभा चुनाव से पहले सिंहदेव को उपमुख्यमंत्री नियुक्त करने के अपने फैसले से कांग्रेस ने स्वीकार कर लिया है कि छत्तीसगढ़ के लोगों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर भरोसा नहीं है। झा ने कहा, यह कांग्रेस आलाकमान द्वारा डैमेज कंट्रोल (संभावित नुकसान से भरपाई) की कवायद है लेकिन इससे राज्य में पार्टी को कोई फायदा नहीं होने वाला है क्योंकि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के संसाधनों को लूटकर राज्य के लोगों को बहुत नुकसान पहुंचाया है। आप नेता ने कांग्रेस से यह स्पष्ट करने को कहा कि इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कौन होगा?

उन्होंने कहा, कांग्रेस आलाकमान ने इस पर पार्टी का रुख साफ नहीं किया है। उन्हें अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए कि क्या सिंहदेव पार्टी का चेहरा होंगे और क्या अब बघेल पर भरोसा नहीं है… लोगों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच भी भ्रम की स्थिति है। भाजपा की छत्तीसगढ़ इकाई के प्रमुख अरुण साव ने बुधवार को कहा कि सरकार के कार्यकाल के अंतिम समय में सिंहदेव की उपमुख्यमंत्री के रूप में नियुक्ति उनके साथ अन्याय है और यह निर्णय आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को हारने से नहीं बचाएगा। उन्होंने कहा, जब कार्यकाल पूरा करने का समय आया है तो सिंहदेव को उपमुख्यमंत्री बनाया गया है। यह न केवल सरगुजा के लोगों का अपमान है, बल्कि सिंह देव के साथ भी अन्याय है।
उन्होंने कहा, कांग्रेस एक डूबता जहाज है। ऐसे फैसलों से कांग्रेस को कुछ हासिल नहीं होने वाला है। छत्तीसगढ़ की जनता ने कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का फैसला कर लिया है। कांग्रेस को छत्तीसगढ़ में कुछ नहीं मिलने वाला है। भाजपा के वरिष्ठ नेता और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले सिंहदेव को उपमुख्यमंत्री नियुक्त करने के कांग्रेस के फैसले के दूरगामी परिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि इस फैसले से कांग्रेस ने मान लिया है कि छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल के नेतृत्व में चुनाव नहीं लड़ा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here