छत्तीसगढ़ में अपहरण के बाद दो ग्रामीणों की हत्या

0
54

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में नक्सलियों ने उपसरपंच समेत दो ग्रामीणों का अपहरण करने के बाद हत्या कर दी है। पुलिस अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सलियों ने चिंतागुफा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ताड़मेटला पंचायत के उपसरपंच माड़वी गंगा और शिक्षा दूत कवासी सुक्का की अपहरण के बाद हत्या कर दी है। उन्होंने बताया कि ताड़मेटला पंचायत के उप सरपंच माड़वी गंगा और शिक्षादूत कवासी सुक्का को लगभग आठ दिनों पहले नक्सलियों ने जगरगुंडा क्षेत्र के दुलेड़ गांव में बुलाया था, इसके बाद से वह घर नहीं लौटे।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सलियों ने बुधवार को जनअदालत लगाकर गंगा और सुक्का की हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि दोनों ग्रामीणों की रिहाई के लिए ताड़मेटला और आसपास क्षेत्र के गांव वाले नक्सलियों के पास गए थे। ग्रामीण वापस आ गए हैं तथा सभी सुरक्षित हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि माड़वी गंगा को दो वर्ष पहले भी नक्सलियों ने बुलाया था और कुछ दिन बाद छोड़ दिया था। इस बार भी स्थिति को सामान्य समझकर परिजनों ने पुलिस को सूचना नहीं दी थी। उन्होंने बताया कि उप सरपंच माड़वी गंगा शासन की जन-कल्याणकारी योजनाएं जैसे आधार कार्ड, राशन कार्ड, खाद्यान योजना, आयुष्मान कार्ड आदि के लाभ के बारे में क्षेत्र के ग्रामीणों को जागरूक कर रहा था जबकि शिक्षादूत कवासी सुक्का ताड़मेटला जैसे संवेदनशील क्षेत्र के ग्रामीण बच्चों को पढ़ाकर शिक्षित कर रहा था।

पुलिस अधिकारियों ने कहा है कि क्षेत्र की जनता के जागरूक और शिक्षित होने से विकास विरोधी नक्सलियों की पकड़ क्षेत्र में कमजोर हो रही थी, और उनका आधार क्षेत्र खत्म हो रहा था, जिससे नाराज नक्सलियों ने बौखलाहट में दोनों ग्रामीणों की हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्र के लिए पुलिस दल रवाना किया गया तथा सभी को छुड़ाने का प्रयास किया गया था। उन्होंने बताया कि दोनों ग्रामीणों का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और घटना में शामिल नक्सलियों के बारे में पता लगाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here