छत्तीसगढ़ में नक्सलियों का शिविर ध्वस्त, एक नक्सली गिरफ्तार

0
78

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में सुरक्षाबलों ने अलग-अलग घटनाओं में नक्सली शिविर को ध्वस्त कर एक नक्सलवादी को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के फरसेगढ़ थाना क्षेत्र के पील्लूर गांव के करीब सुरक्षाबलों ने नक्सली शिविर को ध्वस्त कर दिया है। उन्होंने बताया कि फरसेगढ़ थाना क्षेत्र में नक्सली नेताओं की मौजूदगी की सूचना पर 18 अप्रैल को एसटीएफ के दल को टेकामेटा, मरवाड़ा, सागमेटा, बड़ेकाकलेर, छोटे काकलेर और पील्लूर गांव की ओर रवाना किया गया था।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बृहस्पतिवार को दल जब पील्लूर गांव के करीब पहुंचा तो उसे नक्सलियों द्वारा लगाए गए प्रेशर बम की जानकारी मिली, जिसे सुरक्षा बलों ने निष्क्रिय कर दिया। वहीं क्षेत्र में पुलिस की उपस्थिति को भांपते हुए नक्सली ​शिविर छोड़कर भाग गए। सुरक्षाबल ने नक्सली शिविर को ध्वस्त कर दिया है। उन्होंने बताया कि पील्लूर गांव के जंगल में नक्सलियों ने पांच अलग-अलग स्थान पर टेंट, झोपड़ी लगाया था जिसे सुरक्षाबलों ने ध्वस्त कर दिया है। घटनास्थल से विस्फोटक, गन पाउडर, डेटोनेटर, फ्यूज, तीर बम और अन्य सामान बरामद किया है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि एक अन्य घटना में सुरक्षाबलों ने गंगालूर थाना क्षेत्र में एक नक्सली को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि जिले में नक्सल विरोधी अभियान के दौरान बृहस्पतिवार को गंगालूर थाना क्षेत्र में डीआरजी और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के संयुक्त दल को गश्त पर रवाना किया गया था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दल जब कमकानार और चिन्नाजोजेर गांव के मध्य जंगल में था तब एक संदिग्ध व्यक्ति सुरक्षाबलों को देखकर भागने लगा। बाद में पुलिस दल ने घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने अपना नाम विनोद हेमला (33) बताया। उन्होंने बताया कि नक्सली के पास से एक टिफिन बम बरामद हुआ था जिसे निष्क्रिय कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here